Satyajit Ray

satyajit ray | भारत के सबसे महान फिल्मकार

satyajit ray (2 May 1921 – 23 April 1992) Calcutta
Father :   Sukumar Ray
Mother : Suprabha Ray
Wife :  Bijoya Ray

satyajit ray का नाम इंडिया के सबसे महान फ़िल्मकार के रूप में गिना जाता है |
सत्यजीत राय Director, Producer, Screenwriter, Composer, Writer,
Graphic Designer इन सब कलाओं में निपुण थे |

satyajit ray ने feature films, documentaries and shorts को मिलकर
कुल 36 फिल्मों का निर्देशन किये थे |
सबसे पहले जानते हैं satyajit ray के जन्म और जन्म स्थल के बारे में |

satyajit ray के बारे में :

सत्यजीत राय का जन्म 2 May 1921 को कलकत्ता में एक बंगाली कायस्थ परिवार में हुआ
था जो कला और साहित्य के क्षेत्र में प्रमुख था | ये अपने करियर की शुरुआत एक चित्रकार के
रूप में किये थे |

satyajit ray के दादा, का नाम उपेन्द्रकिशोर राय (रॉय चौधरी) था जो एक प्रतिष्ठित लेखक,
वायलिन वादक और संगीतकार चित्रकार, थे। कला satyajit ray के विरासत में ही थी | एक पीढ़ी
से हि चली आ रही थी | वैसे कलकत्ता कला और साहित्य में देश में सबसे पहले स्थान पे है |

उपेन्द्रकिशोर राय हाफ-टोन ब्लॉक बनाने में भी अग्रणी थे और देश के सबसे बेहतरीन प्रेसों में से एक
U. Ray & Sons. की स्थापना की। satyajit ray के जन्म से छह साल पहले उनके दादा जी यानि की
उपेन्द्रकिशोर राय की मृत्यु हो गई।

satyajit ray के पिता का नाम सुकुमार राय (1887-1923), उपेंद्रकिशोर के सबसे बड़े बेटे थे | उन्होंने
इंग्लैंड में प्रिंटिंग तकनीक का अध्ययन किया और परिवार के बिज़नेस में शामिल हो गए। सुकुमार राय
एक प्रसिद्ध कवि, लेखक और निरर्थक साहित्य के चित्रकार थे।

satyajit ray के दादा जी के द्वारा स्थापित किया गया प्रिंटिंग-प्रेस में बच्चो के लिए सन्देश नाम की एक
मैगज़ीन छपती थी जिसमे ये कविता, चित्र और लेख से अपना योगदान देना शुरू किये |

फिल्मकार Jean Renoir से इनकी मुलाकात और और लंदन में Vittorio De Sica की इटालियन
neorealist फिल्म Bicycle Thieves (1948) को देखने के बाद एक इंडिपेंडेंट फिल्मकार के रूप में और
फिल्म निर्देशन के क्षेत्र में इनका रुझान हुआ |

satyajit ray Education

satyajit ray अपना प्रारंभिक पढ़ाई Ballygunge Government High School से प्राप्त
किये | और कॉलेज के पढाई के लिए प्रेसीडेंसी कॉलेज जॉइन किये | कॉलेज में वो साइंस से
ग्रेजुएशन शुरू किया | पहले दो साल साइंस से पढ़े फिर तीसरे साल में विषय बदल कर अर्थशास्त्र
ले लिए | विषय बदलने की वजह थी उनका एक अंकल जॉब दिलाने का आश्वासन दिया था|

1939 में उन्होंने ग्रेजुएशन कर लिया उस समय उनकी उम्र 18 साल थी | उसके बाद वो
अपना पढ़ाई छोड़ने का फैसला लिया और बिना किसी प्रशिक्षण व्यावसायिक कलाकार के
रूप में अपना करियर बनाने की योजना बनाने लगे |

सत्यजीत राय के माँ को लगा की ये बहुत काम उम्र है जॉब के लिए इसी लिए उनकी माँ उन्हें
शांति निकेतन में पेंटिंग स्टूडेंट के रूप में जुड़ने को बोला | पहले तो वो इसका प्रतिरोध किये बाद में
वो एक पेंटिंग स्टूडेंट के रुप में जुड़ गए |

शांति निकेतन में सत्यजित राय

1942 तक वो शांति निकेतन में रहे | इस दौरान उन्होंने पूरी दुनिया के कई तरह के कला के बारे
में अध्यन किया | जैसे oriental art- Indian sculpture and miniature painting, Japanese
woodcuts and Chinese landscapes .
इसी दौर में वो भारत के साहित्य और कला स्थलों का भ्रमण अपने तीन दोस्त के साथ किया और
भारत के बिविन्न जगहों पे घूमने के बाद भारत की कलाकृति उनको काफी आकर्षित किया |

पहली बार, उन्होंने भारतीय कला के गुणों की सराहना करना शुरू कर दिया था। इस दौरे ने
भारतीय कला में उपयोग किये गए डिटेल और उसके बड़े अर्थ का संकेत ने उनका काफी
ध्यान आकर्षित किया। 1942 में वो वापिस कोलकाता आ गए |

1947 में बंसी चंद्र गुप्ता जैसे कुछ दोस्तों के साथ, satyajit ray ने कलकत्ता की पहली फिल्म
सोसाइटी की सह-स्थापना की। Battleship Potemkin वह पहली फिल्म थी जिसकी
उन्होंने स्क्रीनिंग की थी।

कोलकाता आने के बाद उन्होंने एक advertising agency में ग्राफ़िक डिज़ाइनर के
तौर पे काम करना शुरू किया |
उन्होंने अगले 13 साल यहां बिताए, जब तक कि वह पाथेर पांचाली की सफलता के
बाद पूर्णकालिक फिल्मकार नहीं बन गए।

satyajit ray टाइपोग्राफी के जादूगर थे | वो बंगाली और अंग्रेजी में दोनों भाषा में टाइपोग्राफी
करते थे | Ray Roman’ और ‘Ray Bizarre’ 1971 में आयोजित एक अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिता
जीता था |

satyajit ray first film

‘पाथेर पांचाली’ सत्यजीत रे के पहली सफल फिल्म थी जिसके बाद वो पूर्णकालिक
फिल्मकार बन गए | ‘पाथेर पांचाली’ 11 इंटरनेशनल अवार्ड और 32 नेशनल अवार्ड जीता
था | इस फिल्म के सफलता के बाद हर साल उन्होंने एक के बाद एक फिल्म देते गए |

Directed by satyajit ray total films list

  1. 1955 Pather Panchali
  2. 1956 Aparajito
  3. 1958 Parash Pathar
  4. 1958 Jalsaghar
  5. 1959 Apur Sansar
  6. 1960 Devi
  7. 1961 Teen Kanya
  8. 1961 Rabindranath Tagore
  9. 1962 Kanchenjungha
  10. 1962 Abhijan
  11. 1963 Mahanagar
  12. 1964 Charulata
  13. 1964 Two
  14. 1965 Kapurush-O-Mahapurush
  15. 1966 Nayak
  16. 1967 Chiriyakhana
  17. 1968 Goopy Gyne Bagha
  18. 1969 Aranyer Din Ratri
  19. 1970 Pratidwandi
  20. 1971 Seemabaddha
  21. 1972 The Inner Eye
  22. 1973 Ashani Sanket
  23. 1974 Sonar Kella
  24. 1975 Jana Aranya
  25. 1976 Bala
  26. 1977 Shatranj Ke Khilari
  27. 1979 Joi Baba Felunath
  28. 1980 Hirak Rajar Deshe
  29. 1980 Pikoo
  30. 1981 Sadgati
  31. 1984 Ghare Baire
  32. 1987 Sukumar Ray
  33. 1990 Ganashatru
  34. 1990 Shakha Proshakha
  35. 1992 Agantuk

Contributions by satyajit ray films list

इन सभी फिल्मो में कुछ में स्क्रीनप्ले राइटर के रूप में तो कुछ में राइटर के रूप में
और कुछ फिल्मों में composer के तौर पे और कुछ में असिस्टेंट डायरेक्टर के रूप
में काम किया था |

  1. 1948 A Perfect Day
  2. 1951 The River
  3. 1960 Our Children will Know Each Other Better
  4. 1960 The Tidal Bore
  5. 1961 The Story of Tata Steel
  6. 1963 Creative Artists of India: Satyajit Ray
  7. 1965 Shakespeare Wallah
  8. 1967 Glimpses of West Bengal
  9. 1967 Quest for Health
  10. 1969 House that Never Dies
  11. 1970 Baksa Badal
  12. 1970 Gangasagar Mela
  13. 1973 Max Mueller
  14. 1974 Darjeeling: Himalayan Fantasy
  15. 1978 The Brave Do Not Die
  16. 1983 Phatik Chand (film)
  17. 1983 The Music of Satyajit Ray
  18. 1985–86 Satyajit Ray Presents
  19. 1986–87 Satyajit Ray Presents
  20. 1986 Kissa Kathmandu Ka
  21. 1991 Goopy Bagha Phire Elo
  22. 1994 Uttoran
  23. 1995 Target
  24. 1996 Baksho Rahashya
  25. 1996–97 Feluda 30
  26. 1998 Parvaz-e zanbur
  27. 1999 Satyajiter Gappo
  28. 2000 Dr. Munshir Diary
  29. 2001 Satyajiter Priyo Galpo
  30. 2001 Eker Pithe Dui
  31. 2003 Bombaiyer Bombete[I]
  32. 2006 Bankubabur Bandhu[J]
  33. 2007 The Darjeeling Limited
  34. 2007 Kailashey Kelenkari[L]
  35. 2008 Tintorettor Jishu[M]
  36. 2010 Gorosthaney Sabdhan[N]
  37. 2011 Royal Bengal Rahashya[O]
  38. 2011 Some Maana[29] double-dagger
  39. 2012 Jekhane Bhooter Bhoy[P]
  40. 2013 Bombay Talkies[Q][30]
  41. 2014 Goopi Gawaiya Bagha Bajaiya[31]
  42. Chaar[R]
  43. Badshahi Angti[S]
  44. 2016 Double Feluda[T]
  45. 2017 Anukuldouble-dagger
  46. 2019 Professor Shonku O El Dorado[U]

सत्यजीत राय को ऑस्कर के साथ अपने जीवन काल में काफी अवार्ड मिला था |
ये थी सत्यजीत राय के जीवन के बारे में संक्षेप वर्णन |

Satyajit Ray Film and Television Institute

Satyajit Ray Film and Television Institute (SRFTI) एक फिल्म इंस्टिट्यूट है जिसको
दुनिया का अच्छे फिल्म स्कूलों में से एक माना जाता है |
इसकी स्थापना 1995 में किया गया था | इसके नाम satyajit ray के नाम पर रखा गया |
(SRFTI) यह संस्थान भारत सरकार के सूचना और प्रसारण मंत्रालय द्वारा वित्तपोषित एक
स्वायत्त सोसाइटी है। इस इंस्टिट्यूट में फिल्म निर्माण से जुड़े तकनीक के बारे में पढ़ाई होती है |

1 thought on “satyajit ray | भारत के सबसे महान फिल्मकार”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Close Bitnami banner
Bitnami