Animation and vfx

Animation and VFX , कक्षा 12 वीं के बाद एक अच्छा क्षेत्र है?

बड़ी फीचर फिल्मों, लघु फिल्मों और विज्ञापन के अलावा गेमिंग में एनिमेटर्स और
VFX कलाकार का डिमांड काफी ज्यादा है | अभी हॉलीवुड हो या बॉलीवुड
एक भी पिक्चर बिना Animation and VFX के नहीं बनता है |
एनीमेशन का उपयोग फिल्म और गेमिंग इंडस्ट्री में ही नहीं शिक्षा, ऑटोमोबाइल, विमानन,
औद्योगिक उत्पादन और चिकित्सा क्षेत्रों में भी किया जाता है।

Pixar, Walt Disney, DreamWorks, Industrial Light & Magic (ILM) and
Warner Brothers
जैसे स्टूडियो अपने प्रोजेक्ट में Animation and VFX का काफी ज्यादा
इस्तेमाल करते हैं और उनका क्वालिटी भी कभी उच्च होता है |

ये सभी स्टूडियो भारत से बाहर के देशों में है लेकिन ये अपनी महत्वपूर्ण प्रोजेक्ट को आउटसोर्स
करते हैं। Up, Avatar, Life of Pi, और टीवी सीरीज Game of Thrones जैसी फिल्मों
के लिए Animation and VFX के कुछ हिस्सों को भारत में किया गया। वही बॉलीवुड इंडस्ट्री की
बात करें तो बॉलीवुड में भी एक से बढ़ कर एक वफ़ष फिल्मे बानी है| यहाँ के Animation and VFX
उद्योग ने Roadside Romeo, Bahubali, Vishwaroopam, Krrish, Kochadaiiyaan जैसी फिल्मों के साथ
इंडस्ट्री को आगे बढ़ाया है |

Animation and VFX Career in India

भारत में एनीमेशन कैरियर का स्कोप काफी ज्यादा बढ़ रहा है। एक एनिमेटेड फिल्म
कई चरण से गुजरने के बाद तैयार होता है जिनमें से प्रत्येक का अपना महत्व है।
प्रोडक्शन स्टूडियो में कई अलग-अलग जॉब पोस्ट होते हैं जिनको अपने हिसाब से चुन
कर उसमे करियर बना सकते हैं |

  • Storyboarding Artist
  • Motion Graphics Artist
  • 3D Modellers
  • Rigging Artist
  • Character Animators
  • Texture Artist
  • Lighting Artist
  • Compositing Artist

Storyboarding Artist

स्टोरीबोर्डिंग आर्टिस्ट फिल्म के कहानी को विसुअलीज कर के frame-by-frame एक
स्केच तैयार करता है | कुछ स्टोरीबोर्डिंग आर्टिस्ट पेपर पे ये स्केच बनाते हैं तो कुछ
कंप्यूटर पे डिजिटली तैयार करते हैं |

ये filmmakers, advertisers, और प्रोडूसर्स को प्रोजेक्ट शुरू करने से पहले एक रेफेरेंस
मिल जाता है की हमारा वीडियो या फिर फिल्म किस तरह का दिखेगा |

Motion Graphics Artist

कंप्यूटर प्रोग्राम का उपयोग करते हुए, मोशन ग्राफिक्स कलाकार एनिमेटेड 2D और 3D चित्र
बनाते हैं। अभी मोशन ग्राफ़िक्स का इस्तेमाल विज्ञापन,फिल्म और गेमिंग इंडस्ट्री में काफी ज्यादा
है |

3D Modellers

3D Modellers किसी ऑब्जेक्ट का 3D मॉडल कंप्यूटर प्रोग्राम के मदद से तैयार करता है जो
सभी कोणों से समझने योग्य, और देखने योग्य हैं। वीडियो प्रोडक्शन स्टूडियो, फिल्म स्टूडियो,
मेडिकल एनीमेशन, प्रोडक्शन डिज़ाइन फिल्म में 3D Modellers का काफी ज्यादा मांग है |

Rigging Artist

Rigging आर्टिस्ट हड्डियों और त्वचा को एनिमेटेड चरित्र में जोड़ने के लिए जिम्मेदार है।
रिगिंग आर्टिस्ट रिगिंग करने के बाद पूरी करैक्टर में मूवमेंट कर के देख लेता है की ानीमशन
करने पे कहीं से करैक्टर ब्रेक तो नहीं हो रहा है | फिर इसको आगे एनिमेटर को एनीमेशन के लिए
भेज दिया जाता है |

Character Animators

करैक्टर एनिमेटर्स एक आकर्षक कहानी बताने के लिए करैक्टर के अंदर movements,
facial expressions और डायलॉग्स देता है जिससे एनीमेशन देखने में काफी बेहतरीन लगता है

करैक्टर एनिमेटर्स एक आकर्षक कहानी बताने के लिए करैक्टर के अंदर movements,
facial expressions और डायलॉग्स देता है जिससे एनीमेशन देखने में काफी बेहतरीन
लगता है| उनका काम मुख्य रूप से फिल्मों, टीवी शो, वीडियो गेम में पात्रों के जीवन को
शामिल करना शामिल है |
करैक्टर एनीमेशन के लिए Light wave, Maya, Flash, इन सभी सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल
किया जाता है |

Texture Artist

टेक्सचर आर्टिस्ट का काम का काम बनावट, रंग, पर्यावरण और एनिमेटेड चरित्रों के
ऊपर 3D इफेक्ट्स डालना होता है| करैक्टर के ऊपर झुर्रियाँ, फुंसी, बाल, आदि जैसी
कलाकृति बनाने के लिए उन्हें अक्सर विस्तार से नज़र रखने की आवश्यकता होती है।

Lighting Artist

लाइटिंग आर्टिस्ट correct lights और shadows तैयार करता है जो करैक्टर के तस्वीर को और
ज्यादा realistic और flawless दिखने में मदद करता है |

Compositing Artist

एक Compositing Artist का काम विभिन्न टीमों के सभी तत्वों को एक साथ लाना
और अंतिम आउटपुट के लिए उन्हें Composite करना होता है।

Salaries in Animation and VFX in India

एक प्रतिष्ठित Animation and VFX कोर्स के साथ, खुद को एक मजबूत आधार दे
सकते हैं। एक एनिमेटर का औसत वेतन * INR 37.5k प्रति माह है। भारत में
VFX Artist का औसत वेतन * वर्तमान में प्रति माह INR 25k है।

जब 4-5 साल का उद्योग का अनुभव मिल जाता है, तो फिर नौकरी के
अलावा फ्रीलांस प्रोजेक्ट भी ले सकते हैं। फ्रीलांस प्रोजेक्ट के साथ, अपने अनुभव, कार्य की
गुणवत्ता और प्रतिष्ठा के आधार पर INR 45k और 60k * प्रति माह कमा सकते हैं।
अत्यधिक कुशल एनिमेटर और VFX Artist भी प्रति घंटा की दर से भी शुल्क लेते हैं।

कक्षा 12 वीं के बाद Animation and VFX में इंडस्ट्री में प्रवेश करने के लिए कहीं से
Animation and VFX का कोर्स कर सकते हैं और फिर किसी इंडस्ट्री में अपने पसंद के
जॉब के हिसाब से कैरियर की शुरुआत कर सकते हैं |

2 thoughts on “Animation and VFX , कक्षा 12 वीं के बाद एक अच्छा क्षेत्र है?”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Close Bitnami banner
Bitnami