Sound Fx Artist

साऊंड इफेक्ट्स आर्टिस्ट फिल्म में क्या करता है ?

फिल्म इंडस्ट्री के साथ जुड़े कामों में से एक होता है साऊंड इफेक्ट्स आर्टिस्ट। उनका काम होता है फिल्मों को विसुअली और ऑडियो के माध्यम से अधिक रोचक बनाना। आज के ब्लॉग में, हम इस विषय पर विस्तार से बात करेंगे।

Continuous Animated Advertisement
Ad>>
Advertisement

साऊंड इफेक्ट्स आर्टिस्ट क्या होता है

साउंड इफेक्ट्स आर्टिस्ट ( Foley Artist ) फिल्म के “पोस्ट प्रोडक्शन डिपार्टमेंट” में होता है उसका मुख्य काम फिल्म में साउंड के इफेक्ट्स को तैयार करना होता है , यानि जो साउंड फिल्म सेट पे ठीक से रिकॉर्ड नहीं किया जा सकता है उसे दुबारा से तैयार करना होता है ।

एक साउंड इफेक्ट्स आर्टिस्ट वह व्यक्ति होता है जो फिल्मों, टेलीविज़न शो, वीडियो गेम और मीडिया के अन्य रूपों के लिए साउंड इफेक्ट्स बनाता है।

जब फिल्म शूट होती है तो उस सीन में जो भी एक्शन होता है, उसके साउंड के रिकॉर्डिंग में काफी ज्यादा
शोरगुल की आवाजे भी रिकॉर्ड हो जाती है जिसके वजह से साउंड में सुनने अच्छा नहीं लगता है और
उस साउंड के वजह से विजुअली सीन भी ख़राब लगती है ।

साऊंड इफेक्ट्स आर्टिस्ट फिल्मों के ऑडियो ट्रैक को रिकॉर्ड करने, संपादित करने, और संचालित करने के लिए जिम्मेदार होते हैं। उनका उद्देश्य होता है दर्शकों के भावनाओं को जागृत करना। इसलिए, उन्हें विभिन्न विषयों पर विस्तृत ज्ञान होना चाहिए, जैसे कि जानवरों की आवाज, वातावरण और विभिन्न समय और स्थानों के लिए संगीत और ध्वनि।

यहाँ पे साउंड इफेक्ट्स आर्टिस्ट उस साउंड को दुबारा से तैयार करता है और सेट पे रिकॉर्ड किये गए
साउंड की जगह रिप्लेस कर देता है जिसे ऑडियो मिक्सिंग कहते हैं ।

Sound Effects कलाकारों को क्या कहा जाता है?

Sound Effects कलाकारों को Foley Artist कहा जाता है।

साऊंड इफेक्ट्स क्या होता है

फिल्म में जैसे एक्टर की चलने की आवाजे, दरवाजे के खुलने लगने की आवाजे, सीन में कुछ टूट रहा है तो उसकी आवाजे, या फिर कुछ विजुअल इफेक्ट्स इस्तेमाल किया गया है : जैसे की आग लगना, ब्लास्ट , बारिश का सीन है, तो उसकी आवाजे, यहाँ तक की फिल्म में जो पत्ता सरकता है उसकी आवाजे भी ये साउंड इफेक्ट्स आर्टिस्ट बना कर देते हैं |

और ये सभी साउंड इफेक्ट्स एक स्टूडियो के अंदर तैयार किया जाता है । ये सभी आवाजे अलग अलग वस्तु के मदद से तैयार किया जाता है ।

जैसे: अगर मान ले, एक्टर के चलने की आवाजे है तो उस साउंड इफेक्ट्स को तैयार करने के लिए पहले सीन को ऑब्जर्व किया जाता है|

जैसे: सीन में एक्टर के पैर में किस किस्म का जूता या चप्पल है, उसके हिसाब से साउंड भी बनाना परता है सीन में एक्टर रोड पे चल रहा है या घर में चल रहा है, अगर घर में चल रहा है तो घर का ग्राउंड कैसा है ये सभी छोटी छोटी चीजों को ध्यान में रख के फिर साउंड को तैयार किया जाता है ।

जहां पे ये साउंड रिकॉर्ड होती है, वहां पे काफी तरह के जुगाड़ किस्म की वस्तु रखी रहती है | चलने के आवाज के लिए भी काफी तरह के जूता-चप्पल रखा रहता है

और सीन के साथ जो अच्छा मैच करता हैउसके साथ साउंड को रिकॉर्ड किया जाता है । और भी
कई ऐसे साउंड इफेक्ट्स है, जिसे अलग-अलग सामान और टेक्निक्स के साथ तैयार किया जाता है ।
कौन सी चीजों को कैसे इस्तेमाल किया जायेगा ये साउंड इफेक्ट्स आर्टिस्ट (Folley Artist) के तजुर्बे के ऊपर निर्भर करता है ।

उदाहरण के तौर पे –

एक जोड़ी दस्ताने की मदद से पक्षी के फरफराने की आवाजे तैयार की जाती है |

वही अगर घोड़े की टाप की आवाजे तैयार करना हो तो उसमे नारियल के गोले को आधे से काट कर और उससे तैयार किया जाता है |

बड़ी और पतली धातु की प्लेट को मोड़ कर बिजली की गड़गड़ाहट का साउंड तैयार किया जाता है पुरानी कुर्सी की मदद से चरमराती साउंड तैयार किया जाता है

इसी तरह के चीजों को इस्तेमाल कर के साउंड इफेक्ट्स तैयार किया जाता है |

पहले छोटे-छोटे पार्ट में तैयार किया जाता है | फिर उसको सॉफ्टवेयर की मदद से और अच्छा बनाया जाता है
फिर सभी साउंड जैसे: डायलॉग , बैकग्राउण्ड म्यूजिक , साउंड इफेक्ट्स को एक साथ जोड़ दिया जाता है। साउंड इफेक्ट्स तैयार करना काफी क्रिएटिव काम है और इसमें काफी ज्यादा अनुभव की जरुरत होती है ।

साऊंड इफेक्ट्स शिक्षा और प्रशिक्षण

साऊंड इफेक्ट्स कलाकार बनने के लिए कोई औपचारिक शिक्षा की आवश्यकता नहीं है, आपको साउंड इफेक्ट्स आर्टिस्ट के तौर पे काम शुरू करने से पहले कुछ प्रशिक्षण पूरा करने की आवश्यकता होगी।

आपको साउंड इफेक्ट्स बनाने के लिए साउंड एडिटिंग सॉफ़्टवेयर का उपयोग करने के तरीके के बारे में अपनी समझ के साथ-साथ विभिन्न प्रकार के साउंड बनाने की अपनी क्षमता का प्रदर्शन करने की आवश्यकता होगी।

Sound Effect Artist Salary 

भारत में साउंड इफेक्ट्स कलाकारों के लिए कोई मानक वेतन नहीं है, क्योंकि वेतन अनुभव, स्थान और अन्य कारकों के आधार पर भिन्न हो सकता है। हालाँकि, भारत में साउंड इफेक्ट्स कलाकारों के लिए औसत प्रति घंटा वेतन लगभग 800 रु प्रति घंटा है ।

1 thought on “साऊंड इफेक्ट्स आर्टिस्ट फिल्म में क्या करता है ?”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *