फिल्म कैसे बनाये

अपने मोबाइल फ़ोन कैमरा का इस्तेमाल कर के फिल्म कैसे बनाये

मोबाइल फ़ोन कैमरा का इस्तेमाल कर के फिल्म कैसे बनाये

आजकल कई ऐसे स्मार्टफोन मार्केट में आ चूका है जिससे काफी अच्छी वीडियो
बनाई जा सकती है |
मोबाइल फ़ोन कैमरा का इस्तेमाल कर के फिल्म बनाने के लिए कुछ खाश बात को
ध्यान में रखना जरुरी होता है | इस पोस्ट में हम मोबाइल फ़ोन कैमरा का इस्तेमाल
कर के फिल्म कैसे बनाये इसके बारे डिटेल्स से जानेंगे |

मोबाइल फ़ोन कैमरा का इस्तेमाल कर के फिल्म कैसे बनाये

फिल्म को छोटा और साधारण रखें

मोबाइल फ़ोन कैमरा का इस्तेमाल कर के फिल्म बनाने के लिए सबसे इम्पोर्टेन्ट टिप्स है
की फिल्म को जितना हो सके साधारण और छोटा रखने की कोशिश करनी चाहिए |
मोबाइल फ़ोन से फिल्म शूट करने से पहले ऐसे स्क्रिप्ट का चुनाव करें जो छोटी हो और
साधारण हो यानि शूटिंग में कोई ज्यादा परेशानी नहीं हो|

जो नए फिल्म-निर्माता हैं और फ़ोन कैमरा का इस्तेमाल कर के फिल्म शूट करना चाहते हैं
तो उन्हें इस बात एक और ज्यादा ख्याल रखनी चाहिए |

आपको काफी लाइट की आवश्यकता होगी

मोबाइल फ़ोन कैमरा का सेंसर काफी छोटा होता है जिसके वजह से बहुत कम लाइट
पास करता है | इसीलिए कम लाइट में फिल्म शूट करना मुश्किल हो सकता है |
जब भी मोबाइल फ़ोन कैमरा का इस्तेमाल कर फिल्म शूट करना हो तो उसके लिए पर्याप्त लाइट
की व्यवस्था कर के फिल्म सेट पे पहुंचे |

फिल्म सेट के साउंड को इस्तेमाल करने से बचें

मोबाइल फ़ोन का माइक्रोफोन दूर से साउंड कैप्चर करने में सक्षम नहीं होता है; इसी लिए
अगर फिल्म में लाइव साउंड इस्तेमाल करने से बचे | अगर फिल्म में लाइव साउंड रखना
हो तो अलग से एक्स्ट्रा माइक्रोफोन का इस्तेमाल जरूर करें |

कई छोटी और सस्ती माइक्रोफोन मार्केट में उपलब्ध है जिसका इस्तेमाल फिल्म
शूट में साउंड रिकॉर्ड के लिए किया जा सकता है |

कैमरा मूवमेंट करने से बचे

फिल्म स्क्रिप्ट चुनने के समय ये ध्यान रखना चाहिए की सीन में कैमरा मूवमेंट
ज्यादा नहीं हो, जो भी सीन हो उसमे कैमरा स्थिर हो |
अगर किसी सीन में कैमरा मूवमेंट जरूरी है तो उसके लिए मोबाइल फ़ोन स्लाइडर और
gimble का इस्तेमाल कर सकते हैं |
मोबाइल फ़ोन कैमरा को इस्तेमाल करने के लिए मार्केट में कई तरह के टूल्स उपलब्ध हैं
उसका इस्तेमाल कर के फिल्म के कैमरा मूवमेंट वाले सीन को कैप्चर कर सकते हैं |

फिल्म शूटिंग से पहले प्लानिंग जरूर करें

जब भी मोबाइल फिल्ममेकिंग शुरू करना हो तो उससे पहले प्लानिंग काफी जरूरी है |
फिल्म शूटिंग में कई सारी दिक्कतें आ सकती है इसके लिए पहले से तैयार होना जरूरी
है |

फिल्म शूट करने के लिए क्या-क्या लाइट लगेगा , फिल्म सेट पे किन किन चीजों की आवश्यकता होगी ,
फिल्म जब शूट हो जयेगा तो उसे किस एप्लीकेशन से या वीडियो एडिटिंग सॉफ्टवेयर से एडिट
करना है इन सब की प्लानिंग फिल्म शूटिंग से पहले कर लें काफी जरूरी है |

मोबाइल फिल्ममेकिंग का प्रोसेस भी नार्मल फिल्ममेकिंग जैसा ही होता है बस फिल्म कैमरा के
जगह मोबाइल फ़ोन का कैमरा इस्तेमाल किया जाता है

फिल्म निर्माण के तीन चरण होते हैं-

  • प्री-प्रोडक्शन
  • प्रोडक्शन
  • पोस्ट-प्रोडक्शन

प्री-प्रोडक्शन प्रक्रिया के अंदर फिल्म की प्लानिंग , स्किप्ट राइटिंग, स्टोरी बोर्डिंग की जाती है |
फिल्म में कौन से एक्टर काम करेगा उसका सिलेक्शन इसी चरण में होता है | एक्टर के सिलेक्शन के
प्रक्रिया को कास्टिंग बोलते हैं |
फिल्म शूट होने से पहले की जो भी प्रक्रिया है वो प्री-प्रोडक्शन के अंदर किया जाता है |

प्रोडक्शन प्रक्रिया के अंदर फिल्म की शूटिंग की जाती है |

प्रोडक्शन डिपार्टमेंट में कैमरा मैन, सिनेमेटोग्राफर, लाइटिंग आर्टिस्ट,डायरेक्टर,एक्टर
ये सभी लोग मजूद होते हैं |

पोस्ट-प्रोडक्शन फिल्म निर्माण का सबसे अंतिम प्रक्रिया है | इस प्रक्रिया के अंदर फिल्म एडिटिंग
और ऑडियो की एडटिंग की जाती है | पोस्ट-प्रोडक्शन प्रक्रिया के बाद फिल्म रिलीज के लिए
तैयार हो जाता है |

किसी भी प्रकर की फिल्म-निर्माण के लिए ये सभी स्टेप को फॉलो करना जरुरी होता है |

Leave a Comment

Your email address will not be published.