Film Director

Film Director फिल्म डायरेक्टर कैसे बने

Film Director कैसे बने 

Film Director फिल्म निर्देशक वह व्यक्ति होता है जो फिल्म का निर्देशन करता है।
निर्देशक फिल्म के कलात्मक और नाटकीय पहलुओं को नियंत्रित करता
है और अपने टेक्निकल लोगों और अभिनेताओं का मार्गदर्शन करते हुए
स्क्रिप्ट के हिसाब से सीन की कल्पना करता है।
अपने फिल्म के लिए Film Director ही कलाकारों का चुनाव करता है
की कौन से कैरक्टर के लिए किस कलाकार को रोल दिए जाये ।
फिल्म डायरेक्टर पुरे फिल्म के ऊपर अपना नियंत्रण रखता है चाहे वो क्रू का
कोई सदस्य हो या फिर फिल्म की बजट की बात हो Film Director की जिम्मेबारी
होती है फिल्म के सभी पहलु को देखना ।

Education And Training For Film Director

काफी सारे फिल्म स्कूल हैं जो फिल्म स्टूडेंट के लिए डिग्री कोर्स उपलब्ध करवाते हैं।
फिल्म स्टूडेंट को आमतौर से फिल्म बनाने के वो सारे टेक्निक सिखाया जाता है जो मुख्य रूप
से एक Film Director को फिल्म बनाने के समय जरूरत होती है।
जैसे स्टोरी-बोर्डिंग, स्क्रिप्ट राइटिंग, फिल्म एडिटिंग, सिनेमेटोग्राफी,  एक्टिंग
कुछ कोर्स पाँच साल के होते हैं कुछ उससे कम के भी होते हैं। लेकिन एक Film Director
को फिल्म के सभी छोटी से छोटी चीजों को जानना जरूरी होता है।
फिल्म स्कूल में फिल्म बनाने के टेक्निक से लेकर कम्युनिकेशन स्किल, प्रोफेशनल
एक्टर से कैसे डील किया जाये ये सभी चीजे सिख्या जाता है जो की एक Film Director
 के लिए बहुत जरूरी है ।

Film School In India 

National School of Drama”(NSD) Delhi
Film and Television Institute of India (FTII) Pune
SATYAJIT RAY FILM & TELEVISION INSTITUTE (SRFTI) Kolkata

ये कुछ फिल्म स्कूल है जहाँ से फिल्म निर्देशन सिख सकते हैं । फिल्म स्कूल का एक
सबसे बड़ी बेनिफिट ये मिलता है वहाँ पर स्टूडेंट को प्रैक्टिकल ट्रेनिंग मिल जाता है सभी
डिपार्टमेंट के लोग स्कूल के अंदर होते हैं और स्टूडेंट उनलोगो के साथ ग्रुप कर के
शार्ट-फिल्म्स बनाते हैं जिससे उन्हें फिल्म बनाने की बेसिक प्रक्रिया का प्रशिक्षण
मिल जाता है ।

JOB AND OPPORTUNITY

अगर जॉब की बात करे तो डायरेक्ट फिल्म निर्देशक के पोस्ट पर जॉब मिलने के चान्सेस
कम होते हैं । उससे पहले अस्सिस्टेंट डायरेक्टर के तौर पे कुछ फिल्म में काम कर के एक्सप्रिएंस लेना
जरूरी होता है। फिल्म मेकिंग में किसी भी डिपार्टमेंट में जॉब के लिए सबसे जरूरी चीज पोर्टफोलियो है।
फिल्म निर्माता कंपनी में जॉब देने से पहले उनके पिछले काम के बारे में जानकरी पूछा
जाता है|

Film Director पोर्टफोलियो

जितना पोर्टफोलियो मजबूत होगा जितना ज्यादा एक्सप्रिएंस होगा उतना Film डायरेक्टर के पोस्ट पे
काम मिलने की चांस ज्यादा है। पोर्टफोलियो के लिए सबसे आसान रास्ता है की शार्ट फिल्म में काम करे
या फिर किसी बड़ी फीचर फिल्म में अस्सिस्टेंट डायरेक्टर के रूप में काम करे ।
काफी सारे ऐसे मल्टी टैलेंटेड लोग भी हैं जो एक्टिंग के बाद Film Director के रूप में भी अपने
करियर की शुरुआत की। काफी सारे सिनेमेटोग्राफर बाद में जा कर डायरेक्शन के फील्ड में
चले गए ।

फिल्म निर्देशन पूरी तरह से फिल्ममेकिंग के प्रक्रिया के समझ के ऊपर है चाहे कोई भी
किसी भी डिपार्टमेंट से हो अगर उस के अंदर किसी कहानी को कहने का गुण है और उस कहानी को
एक फिल्म के तरह विजुलाइज करने का टैलेंट है तो वो निश्चित रूप से एक सफल Film Director बन सकता है ।

See Also :

फिल्ममेकिंग कैसे सीखें

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Close Bitnami banner
Bitnami